NSC क्या है? 10 प्वाइंट्स में समझें

1. क्या है NSC?

ये नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट एक सुरक्षित निवेश स्कीम है जिसमें आप 5 साल के पीरियड के लिए निवेश करते हैं.

2. NSC में मिलती है रिटर्न की गारंटी

National Savings Certificate: पोस्‍ट ऑफ़िस में निवेश के सबसे सुरक्षित विकल्पों में से एक है, क्योंकि इसे भारत सरकार की गारंटी होती है.

3. NSC: हर तिमाही में ब्याज़ में बदलाव

NSC पर ब्याज की गारंटी होती है. इसकी ब्याज़ दर को सरकार आम तौर पर हर तिमाही के लिए बदल सकती है. बहरहाल, एक बार आप NSC में निवेश कर देते हैं, तो पूरे पीरियड के दौरान एक जैसा ब्याज मिलता है.

4. कर्ज़ की सुविधा

स्कीम की अवधि ख़त्म होने से पहले NSC पर क़र्ज़ लिया जा सकता है.

5. प्री-मेच्योर विड्रॉल कैसे होगा?

NSC में निवेश पूरे समय के लिए लॉक रहता है. हालांकि ये कुछ स्थितियों में संभव है. जैसे सिंगल अकाउंट या ज्वाइंट अकाउंट में अकाउंट होल्डर की मृत्यु होने पर रक़म को नॉमिनी के नाम की जाती है.

6. कितनी टैक्स छूट है?

NSC में निवेश और ब्याज़ दोनों के लिए सेक्शन 80C के तहत ₹1.5 लाख तक की रक़म पर छूट है.

7. कहां से ख़रीदें

NSC को किसी भी हेड या जनरल पोस्ट ऑफ़िस से ख़रीदा जा सकता है.

8. निवेश का उद्देश्य और रिस्क

NSC में निवेश करने का ख़ास उद्देश्य टैक्स में छूट और अश्योर्ड रिटर्न पाना है.

9. NSC सर्टिफ़िकेट को कैश करा सकते है

NSC सर्टिफ़िकेट को भारत के किसी भी पोस्ट ऑफ़िस में कैश करा सकते है, बशर्ते इसके ट्रांसफ़र का अधिकार आपके पास हो.

10. NSC का एप्लीकेशन फ़ॉर्म ऑनलाइन नहीं भर सकते

आप इसका फ़ॉर्म ऑनलाइन डाउनलोड कर सकते हैं. साथ ही, आप DOP ई-बैंकिंग पोर्टल के ज़रिए अपने अकाउंट और लेन-देन की डिटेल्स ऑनलाइन ले सकते हैं.

पढ़ने के लिए धन्यवाद!

और देखें