इस FD में Bank FD से ज़्यादा ब्याज़ मिलेगा

क्या होती है Corporate FD?

NBFC जैसे वित्तीय संस्थान पैसों की ज़रूरत होने पर कॉर्पोरेट FD के ज़रिये पैसा जुटाते हैं. इसके लिए उन्हें RBI की मंज़ूरी लेनी होती है. बैंक FD की तरह इनकी मेच्योरिटी की एक मियाद होती है

किसमें ज़्यादा फ़ायदा है?

Corporate FD में बैंक FD की तुलना में कुछ ज़्यादा ब्याज़ मिलता है

बैंक FD कितनी सेफ़?

बैंक FD एक सीमा तक सेफ़ होती है. असल में DICGC की तरफ से बैंक FD को प्रति बैंक प्रति डिपॉज़िटर ₹5 लाख का इंश्योरेंस मिलता है. यानी बैंक के फ़ेल होने पर आपको ₹5 लाख तक रक़म मिलती है

Corporate FD कितनी सेफ़?

हालांकि, कॉर्पोरेट FD किसी भी एजेंसी की तरफ़ से इंश्योर्ड नहीं होती है. इसीलिए, इनमें डिफ़ॉल्ट का रिस्क ज़्यादा होता है

Corporate FD: 5 बातों का रखें ध्यान

1. कॉर्पोरेट FD की क्रेडिट रेटिंग 2. अवधि. 3. ब्याज दर और पे-आउट फ़्रीक्वेंसी. 4. शर्तें: अगर मेच्योरिटी से पहले पैसे निकालने हों. 5. टैक्स.

पढ़ने के लिए धन्यवाद!

और देखें