SIP से शानदार रिटर्न दिलाने वाले 5 मंत्र

SIP अच्छा विकल्प है

बाज़ार का सही अनुमान कोई नहीं लगा सकता. दुनिया भर की घटनाओं का बाज़ार पर असर होता है. ऐसे में, SIP के ज़रिए म्‍यूचुअल फ़ंड में निवेश अच्छा विकल्‍प है.

छोटी रक़म से बड़ा फ़ंड

SIP के ज़रिए छोटी-छोटी रक़म के निवेश से लंबे समय में बड़ा पैसा बना सकते हैं. ये उतार-चढ़ाव के जोख़िम से भी बचाता है. SIP से बेहतर रिटर्न के लिए जानें 5 मंत्र...

1. SIP शुरू करने में देर न करें

जल्‍द SIP शुरू करके आप छोटी पूंजी निवेश करके लंबे समय में बड़ी रक़म बना सकते हैं. जब आप 25-30 साल की उम्र में निवेश शुरू करते हैं तो निवेश के लिए ज़्यादा समय होता है.

2. मार्केट के उतार-चढ़ाव तवज्जो न दें

उतार-चढ़ाव आते रहते हैं, लेकिन निवेश को न रोकें. निवेशक के लिए तो गिरावट फ़ायदे का सौदा है. जब बाज़ार गिरता है तो कम पैसे में ज़्यादा यूनिट मिलती हैं. इसलिए धैर्य बनाए रखें.

3. अलग-अलग लक्ष्यों के लिए निवेश

निवेश के कई गोल होते हैं. जैसे कार ख़रीदना या रिटायरमेंट कॉर्पस जमा करना. कम समय के लिए debt fund और लंबी समय के लिए equity fund में निवेश करें.

4. SIP की रक़म बढ़ाते रहें

SIP ही काफ़ी नहीं. आपको आय बढ़ने के साथ साथ SIP की रक़म भी बढ़ानी चाहिए, तभी लंबे समय में ज़रूरत के लायक बड़ी रक़म बना पाएंगे. महंगाई का मुकाबला करने के लिए भी ऐसा ज़रूरी है.

5. एकमुश्‍त पैसा न निकालें

जब बहुत ज़रूरत न हो, तब तक SIP से पैसा एक साथ न निकालें. पैसा तभी निकालें, जब आपका गोल पूरा हो जाए और उतना ही पैसा निकालें जितनी ज़रूरत हो.

पढ़ने के लिए धन्यवाद!

और देखें