फ़िक्स्ड डिपॉज़िट vs शॉर्ट-ड्यूरेशन फ़ंड

Debt Funds पर इंडेक्सेशन ख़त्म

Debt Funds पर indexation का फ़ायदा ख़त्म होने के बाद ये सवाल उठते हैं: क्या FD और Short-Duration Funds अपने फ़ायदे में एक जैसे हो गए हैं, इनमें बेहतर कौन है?

Indexation ख़त्म होने से FD को फ़ायदा?

Debt Funds पर indexation का फ़ायदा ख़त्म होना मायूसी भरा है. अब Short-Duration Funds और FDs के बीच tax के बाद return का फ़र्क़ कम हो गया है. हालांकि, ये fund अब भी FD से बेहतर हैं.

Anyalasis का तरीक़ा क्या है?

Indexation नहीं होता, साथ ही FD और Short-Duration Funds पर एक जैसा tax लगता, तो क्या होता? इसके लिए SDF के 3 साल के median return की तुलना SBI की 3 साल की FD से की.

FD vs Short-Duration Funds का नतीजा?

हमने पाया, पिछले 12-साल में, Short-Duration Funds के regular plan और direct plan ने FDs के मुक़ाबले क्रमशः 61% और 76% मामलों में बेहतर रिटर्न दिया.

Yield-to-maturity की तुलना

Yield-to-maturity (YTM) का मतलब है, किसी bond को maturity तक अपने पास रखने पर मिलने वाला return. YTM से debt fund पर मिलने वाले return के बारे में भी पता चलता है.

FD & SDF के रिटर्न?

अक्तूबर 23 तक, short duration funds ने 7.69% का category average YTM दिया, जो FD के 3 साल के 7-7.25% return से ज़्यादा है.

FD vs Short-Duration Funds पर हमारा नज़रिया

चाहे indexation का फ़ायदा ख़त्म हो गया है, पर debt fund अब भी core fixed-income portfolio के लिए एक बढ़िया हैं. Interest rates गिरने पर ज़्यादा return की उम्मीद की जा सकती है.

और देखें