फंड वायर audio-icon

2023 में इस ETF ने दोगुना कर दिया निवेशकों का पैसा, क्या निवेश का है मौका?

मिराए एसेट NYSE FANG+ ETF के परफ़ॉर्मेंस का पूरा अनालेसिस पढ़िए

2023 में इस ETF ने दोगुना कर दिया निवेशकों का पैसा, क्या निवेश का है मौका?

back back back
3:57

अगर कोई टीम पहले से ही बेहतरीन हो, तो उसमें अपनी अलग पहचान बनाना एक मुश्किल काम है. जिस तरह बार्सिलोना टीम में लियोनेल मेसी ने बेहतरीन खिलाडियों के बीच अपनी एक शानदार पहचान बनाई है, उसी तरह पिछले साल मिराए एसेट के अंतरराष्ट्रीय ETF ने भी कुछ ऐसा ही कारनामा किया.

नंबरों के स्तर पर देखें, तो मिराए एसेट NYSE FANG+ ETF ने 2023 में शानदार 96 फ़ीसदी रिटर्न दिया. यानी सिर्फ़ 12 महीनों में आपके पैसे लगभग दोगुने हो गए.

क्या बात है जो इसे ख़ास बनाती है?

ये एक ETF (एक्सचेंज-ट्रेडेड फ़ंड) है जो NYSE FANG+ को ट्रैक करता है. NYSE FANG+ एक अमेरिकी इंडेक्स है जिसमें सिर्फ 10 कंपनियां शामिल हैं.

इनमें से 7 कंपनियां तथाकथित मैग्नीफ़िसेंट सेवन (Magnificent Seven) ग्रुप का हिस्सा हैं. इस ग्रुप में अल्फ़ाबेट (गूगल), अमेज़न, ऐप्पल, मेटा (फ़ेसबुक), माइक्रोसॉफ़्ट, एनवीडिया और टेस्ला शामिल हैं. इन सभी कंपनियों के लिए 2023 एक शानदार साल रहा.

मिराए एसेट NYSE FANG+ के लिए दीवानगी

2023 में इस ज़बरदस्त प्रदर्शन को देखते हुए, हैरानी की बात नहीं है कि मिराए एसेट NYSE FANG+ ETF में निवेशक काफ़ी दिलचस्पी ले रहे हैं.

जो नहीं जानते, उन्हें बता दें कि ये फ़ंड उन कंपनियों में निवेश करता है, जो इनोवेशन में सबसे आगे हैं. दूसरा, ये अंतरराष्ट्रीय एक्सपोज़र/ डाइवर्सिफ़िकेशन देता है, जिसकी सलाह अक्सर निवेशकों को दी जाती है.

तीसरी और सबसे ज़रूरी बात, ये ETF घरेलू स्तर पर ट्रेड किए जाने वाले 4 ETF में सबसे उपयुक्त है जो आपको 'मैग्नीफ़िसेंट सेवन' में निवेश का मौक़ा देता है. इसके अलावा एकमात्र दूसरा तरीक़ा FoFs (फ़ंड ऑफ़ फ़ंड्स) हैं, जो विदेशी ETF में निवेश करते हैं. हालांकि, इन FoF ने 1 अप्रैल से निवेशकों से पैसा लेना बंद कर दिया है, क्योंकि हाल ही में फ़ंड्स के विदेशी निवेश $1 बिलियन की सीमा पार कर ली गई है).

ये भी पढ़िए- क्या रिटायर होने के बाद स्टॉक मार्केट में निवेश करना चाहिए?

मशहूर होने की क़ीमत

चूंकि फ़िलहाल विदेशी एसेट में निवेश करने के कुछ ही विकल्प हैं, इसलिए निवेशक सबसे अच्छे विकल्प की ओर आकर्षित हो रहे हैं.

नतीजा, मिराए एसेट NYSE FANG+ ₹96 के क़रीब क़ारोबार कर रहा है, जो कि इसके ₹82 के NAV (5 अप्रैल 2024 तक) से 17 फ़ीसदी ज़्यादा है. ये 'ज़्यादा मांग और कम सप्लाई' का मामला है.

ऐसा नहीं है कि मिराए एसेट NYSE FANG+ ETF ने इससे पहले प्रीमियम पर क़ारोबार नहीं किया है. लेकिन 17 फ़ीसदी का प्रीमियम काफ़ी ज़्यादा है.

क्या आपको निवेश करना चाहिए?
नहीं.

क्यों?
आपको प्रीमियम यानी बढ़ी हुई क़ीमत के बराबर आने के लिए इसके सभी शेयरों में सामूहिक रूप से 17 फ़ीसदी की बढ़ोतरी का इंतज़ार करना होगा.

इसके अलावा, देर-सबेर ये ETF अपने NAV के क़रीब लौट आएगा और आप कम रिटर्न में फंस जाएंगे.

यहां तक कि अगर आप 10 साल तक भी निवेश में बने रहने के इच्छुक हैं, तो भी आप 1-2 फ़ीसदी का रिटर्न ही कमाएंगे, जो लॉन्ग टर्म में काफ़ी कम रहेगा.

संक्षेप में, मिराए एसेट ETF को लालच में पड़ कर इतने ऊंचे प्रीमियम पर ख़रीदना काफ़ी जोख़िम भरा हो सकता है.

ये भी पढ़िए- आपका पहला Mutual Fund कैसा हो


दूसरी कैटेगरी