IPO अनालेसिस

IPO: जुनिपर होटल्स

Juniper Hotels IPO में निवेश से पहले कंपनी की क्षमताओं, कमज़ोरियों और ग्रोथ की संभावनाओं के बारे में जानिए.

Juniper Hotels IPO: The Good and The Bad

Juniper Hotels IPO: Juniper Hotels ने 21 फ़रवरी 2024 को अपना इनीशियल पब्लिक ऑफ़र (IPO) पेश कर दिया है. यहां हम कंपनी की क्षमताओं, कमज़ोरियों और ग्रोथ की संभावनाओं के बारे में बता रहे हैं. इसके आपके लिए निवेश का फ़ैसला लेना आसान हो जाएगा.

Juniper Hotels IPO पर एक नज़र

क्वालिटी - इसका तीन साल का औसत ROE और ROCE, क्रमशः -24.4 फ़ीसदी और 1.8 फ़ीसदी है. इसके अलावा कंपनी पिछले तीन फ़ाइनेंशियल ईयर में मुनाफ़े में नहीं रही है और इस पर इक्विटी के मुक़ाबले क़र्ज़ लगातार बढ़ रहा है.

ग्रोथ - पिछले तीन साल में इसका रेवेन्यू चार गुना बढ़ा है , ख़ास तौर से कोविड-19 के बाद एवरेज रेट में थोड़ा सुधार देखने को मिला. इसके अलावा, FY21 में ₹199 करोड़ की तुलना में FY23 में इसका घाटा कम होकर ₹1 करोड़ हो गया है.

वैल्यूएशन - कंपनी को TTM के आधार पर घाटा हुआ है, और इसलिए, प्राइस-टू-अर्निंग (P/E) का वैल्यूएशन नहीं किया जा सकता है. हालांकि, इसका प्राइस-टू-बुक का रेशियो 3.0 गुना है, जबकि इसके समकक्षों (peer’s) का रेशियो लेवल 9.3 गुना है.

मोटे तौर पर - जुनिपर (Juniper Hotels) उन होटल कंपनियों में से है, जिसे ट्रेवल एंड टूरिज़म इंडस्ट्री में कोविड के बाद काफ़ी फ़ायदा हुआ है. इसे 'हयात” जैसे ग्लोबल ब्रांड का भी फ़ायदा मिलता है. हालांकि, इसकी बैलेंस शीट देखें तो उसमे भारी क़र्ज़ दिखता है, जिस पर ध्यान देने की ज़रूरत है.

Juniper Hotels कंपनी के बारे में

जुनिपर होटल्स, सराफ़ ग्रुप और हयात होटल्स कॉर्पोरेशन (Saraf Group and Hyatt Hotels Corporation) के बीच एक स्ट्रेटेजिक पार्टनरशिप है. फ़िलहाल भारत में हयात से जुड़े होटलों की सबसे बड़ी मालिक है. (चाभियों की संख्या के आधार पर). इसके पोर्टफ़ोलियो में सात होटल और सर्विस अपार्टमेंट शामिल हैं. और इसने हाल ही में चार्टर्ड होटल्स को ख़रीदा है, जो हयात रीजेंसी लखनऊ, हयात रायपुर और हयात प्लेस हम्पी का मालिक है.

Juniper Hotels की ख़ासियत

जुनिपर को हयात होटल्स जैसे बड़े ब्रांड नाम का फ़ायदा मिलता है, जो उसके ग्राहकों को लक्ज़री अनुभव कराने के लिए जाना जाता है.

Juniper Hotels की कमज़ोरियां

रेविन्यू कंसंट्रेशन: (30 सितंबर, 2023 तक) जुनिपर होटल्स को 50 फ़ीसदी से ज़्यादा का रेवेन्यू, ग्रैंड हयात मुंबई होटल से मिला है. इसके अलावा, लगभग 90 फ़ीसदी रेवेन्यू मुंबई और दिल्ली में स्थित केवल 3 होटलों से मिलता है. इन जगहों में मंदी का असर इसके ऑपरेशन पर पड़ सकता है.

3 साल से घाटे में रही: पिछले 3 फ़ाइनेंशियल ईयर से ये कंपनी घाटे में ही रही है, जिसका 30 सितंबर, 2023 तक डेट-टू- इक्विटी (debt-to-equity) 3.1 गुना है. कंपनी को आगे बढ़ाने के लिए इसे और पैसों की ज़रूरत पड़ेगी.

इस इंडस्ट्री में काफ़ी कॉम्पिटीशन के चलते ये कंपनी अभी भी बरकरार है.

Juniper Hotels IPO की डिटेल

IPO डिटेल

कुल IPO साइज़ (करोड़ ₹) 1800
ऑफ़र फ़ॉर सेल (करोड़ ₹) 0
नए इशू (करोड़ ₹) 1800
प्राइस बैंड (₹) 342 - 360
सब्स्क्रिप्शन डेट 21 फ़रवरी से 23 फ़रवरी 2023
उद्देश्य कर्ज़ का भुगतान, कॉर्पोरेट संबंधी ज़रूरतों के लिए

Juniper Hotels IPO के बाद

IPO के बाद

मार्केट कैप (करोड़ ₹) 8010
नेट वर्थ (करोड़ ₹) 2660
प्रमोटर होल्डिंग (%) 77.5
प्राइस/ अर्निंग रेशियो (P/E) -
प्राइस/ बुक रेशियो (P/B) 3

Juniper Hotels की फ़ाइनेंशियल हिस्ट्री

फ़ाइनेंशियल हिस्ट्री

फ़ाइनेंशियल्स 2 ईयर ग्रोथ (% pa) TTM सितंबर 2023 FY23 FY22 FY21
रेवेन्यू (करोड़ ₹) 100.2 709 667 309 166
EBIT (करोड़ ₹) 93.3 203 190 -34 -110
PAT (करोड़ ₹) 41.2 -10 -1 -188 -199
नेट वर्थ (करोड़ ₹) 860 355 356 544
कुल क़र्ज़ 2663 2444 2504 2208
EBIT यानी ब्याज और टैक्स से पहले की कमाई
PAT यानी टैक्स के बाद का मुनाफ़ा

Juniper Hotels के अहम रेशियो

अहम रेशियो

रेशियो 3 साल का औसत (%) TTM सितंबर 2023 FY23 FY22 FY21
ROE (%) -24.4 -1.8 -0.4 -41.8 -31
ROCE (%) 1.8 7.1 8.5 0.1 -3
EBIT मार्जिन (%) -16.1 28.6 28.6 -10.9 -65.9
डेट-टू-इक्विटी 6 3.1 6.9 7 4.1
ROE यानी इक्विटी पर रिटर्न
ROCE यानी लगाई गई कैपिटल पर रिटर्न

कंपनी की रिस्क रिपोर्ट

कंपनी और बिज़नस

क्या पिछले 12 महीनों में Juniper Hotels की टैक्स के पहले की कमाई ₹50 करोड़ से ज़्यादा है?
नहीं. टैक्स से पहले इसे पिछले 12 महीनों में इसे ₹34 करोड़ का घाटा हुआ है.

क्या Juniper Hotels अपना बिज़नस बढ़ा पाएगी?
हां, महामारी के बाद ट्रेवेल एंड टूरिज़म इंडस्ट्री में उछाल को देखते हुए, ये बड़े पैमाने में आगे बढ़ सकेगा.

क्या Juniper Hotels ग्राहकों को अपनी ओर खींचने के लिए भरोसेमंद ब्रांड हैं?
नहीं, हालांकि इसे हयात ग्रुप जैसे बड़े ब्रांड नाम से फ़ायदा मिलता है, लेकिन इसे दूसरे लक्ज़री ब्रांड प्लेयर्स से भारी कॉम्पिटीशन का सामना करना पड़ता है.

क्या कंपनी के पास भरोसेमंद सुरक्षा घेरा (credible moat) है?
नहीं, क्योंकि ये बड़े और भारी कॉम्पिटीशन वाले बाज़ार में काम करता है.

मैनेजमेंट

क्या कंपनी के फ़ाउंडर्स में से किसी के पास अभी भी कंपनी में कम से कम 5 फ़ीसदी की हिस्सेदारी है? या क्या प्रमोटर्स के पास कंपनी में 25 फ़ीसदी से ज़्यादा हिस्सेदारी है?
हां. IPO के बाद प्रमोटरों की हिस्सेदारी 77.5 फ़ीसदी होगी.

क्या Juniper Hotels के टॉप 3 मैनेजर 15 साल से ज़्यादा समय से लीडरशिप रोल में हैं?
हाँ, चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर अरुण कुमार सराफ सं 1998 से इस कंपनी से जुड़े हुए हैं.

क्या मैनेजमेंट भरोसेमंद है? क्या ये अपने ख़ुलासों को लेकर ट्रांसपरेंट हैं, जो SEBI के दिशानिर्देशों के मुताबिक़ हों?
हां. इससे इतर सुझाव देने के लिए कोई जानकारी नहीं है.

क्या कंपनी की अकाउंटिंग पॉलिसी टिकाऊ है?
हां. इसके विपरीत सुझाव देने के लिए कोई जानकारी नहीं है.

क्या कंपनी के प्रमोटर्स ने कोई शेयर गिरवी नहीं रखा है?
हां. कोई शेयर गिरवी नहीं रखा गया है.

फ़ाइनेंशियल

क्या कंपनी ने इक्विटी पर वर्तमान और तीन साल का एवरेज रिटर्न 15 फ़ीसदी से ज़्यादा और लगाई गई पूंजी पर 18 फ़ीसदी से ज़्यादा का रिटर्न कमाया है?
नहीं, पर इसका तीन साल का औसत (ROE) और (ROCE) क्रमशः -24.4 और 1.8 फ़ीसदी है. इसका TTM ROE और ROCE क्रमशः -1.8 और 7.1 फ़ीसदी है.

क्या पिछले तीन साल के दौरान कंपनी का ऑपरेशन से कैश फ़्लो पॉज़िटिव था?
नहीं, FY22 के ऑपरेशन्स से इसका कैश फ़्लो निगेटिव है.

क्या कंपनी का नेट डेट-टू-इक्विटी रेशियो एक से कम है?
नहीं. सितंबर 2023 तक इसका कुल डेट-टू-इक्विटी रेशियो 3.1 गुना था.

क्या Juniper Hotels रोज़मर्रा के मामलों के लिए भारी वर्किंग कैपिटल पर निर्भरता से मुक्त है?
नहीं, पिछले सभी तीन फ़ाइनेंशियल ईयर में इसे काफ़ी घाटा हुआ है जिसके चलते इसे ज़्यादा वर्किंग कैपिटल की ज़रूरत है.

क्या कंपनी अगले तीन साल में बाहरी फ़ंडिंग पर निर्भर हुए बिना अपना बिज़नस चला सकती है?
नहीं, कंपनी पहले से ही भारी क़र्ज़ से जूझ रही है और ये देखते हुए कि इसका विस्तार कैपिटल इंसेन्टिव है, तो इसे आगे बढ़ाना संभव नहीं है क्योंकि फ़्रेश इश्यू अमाउंट का लगभग 83 फ़ीसदी डेट का रीपेमेंट करने के लिए इस्तेमाल किया जाएगा.

क्या Juniper Hotels सार्थक आकस्मिक देनदारियों (meaningful contingent liabilities) से मुक्त है?
हां. इक्विटी के प्रतिशत के रूप में इसकी आकस्मिक देनदारियां 30 सितंबर, 2023 तक 3.3 फ़ीसदी की थीं.

वैल्यूएशन

क्या स्टॉक अपनी एंटरप्राइज़ वैल्यू पर 8 फ़ीसदी से ज़्यादा की ऑपरेटिंग इनकम यील्ड प्रदान करता है?
नहीं, स्टॉक अपने एंटरप्राइज़ वैल्यू पर 1.9 फ़ीसदी तक ही ऑपरेटिंग इनकम यील्ड प्रदान करेगा.

क्या स्टॉक का प्राइस-टू-अर्निंग रेशियो उसके जैसे दूसरे स्टॉक के मीडियन लेवल से कम है?
NA, कंपनी को TTM के आधार पर घाटा हुआ है.

क्या स्टॉक की प्राइस-टू-बुक वैल्यू उसकी जैसी दूसरी कंपनियों के एवरेज लेवल से कम है?
हां. इसके स्टॉक की वैल्यू उसके प्रतिस्पर्धी (peer) के औसत स्तर 9.3 गुना की तुलना में 3.0 गुना के P/B रेशियो पर है.

डिस्क्लेमर: ये स्टॉक रेकमेंडेशन नहीं है. निवेश करने से पहले ठीक से छानबीन ज़रूर करें.

ये भी पढ़िए - आपको वैल्यू रिसर्च स्टॉक रेटिंग क्यों चुननी चाहिए

धनक साप्ताहिक

बचत और निवेश करने वालों के लिए फ़्री न्यूज़लेटर


दूसरी कैटेगरी