धनक से पूछें audio-icon

टैक्स बचाने के लिए कहां करें ज़्यादा निवेश?

हम यहां निवेश के एक ऐसे विकल्प के बारे में बता रहे हैं, जो टैक्स सेविंग को बढ़ाने में आपकी मदद कर सकता है

टैक्स बचाने के लिए कहां करें ज़्यादा निवेश?

ये स्टोरी सुनिए

back back back
2:53

मैं सेक्शन 80C के तहत टैक्स बचाने के लिए पहले ही ₹1.5 लाख निवेश कर चुका हूं. मैं और कहां निवेश कर सकता हूं? - एक पाठक

अगर आपने अपनी सेक्शन 80C का पूरा फ़ायदा उठा लिया है, तो इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80CCD (1B) के तहत ₹50,000 तक डिडक्शन का लाभ उठाने के लिए नेशनल पेंशन सिस्टम (NPS) टियर-I में निवेश करने पर विचार करें. ये डिडक्शन सेक्शन 80C की ₹1.5 लाख की लिमिट के अतिरिक्त है और विशेष रूप से NPS निवेश के लिए उपलब्ध है.

NPS क्या है?

नेशनल पेंशन सिस्टम 2004 में सरकार द्वारा शुरू की गई एक रिटायरमेंट सेविंग स्कीम है. इसका मुख्य उद्देश्य वृद्धावस्था पेंशन के लिए निवेश को बढ़ावा देना है.

18 से 70 वर्ष की आयु का कोई भी भारतीय नागरिक NPS खाता खोल सकता है और 75 वर्ष की आयु तक निवेश कर सकता है. इसमें न्यूनतम ₹500 निवेश करना होता है.

ये भी पढ़िए- NPS: मेच्योरिटी से पहले पैसा कैसे निकालें?

NPS में निवेश किया गया पैसा 60 वर्ष की उम्र तक लॉक रहता है. हालांकि, कुछ शर्तें पूरी करने पर विथड्रॉल की अनुमति है. 60 साल की आयु में, जमा की गई कुल राशि का 60 फ़ीसदी तक निकाला जा सकता है और बाकी 40 फ़ीसदी का उपयोग एन्युटी ख़रीदने के लिए किया जाना चाहिए. हाल में हुए सुधारों के अनुसार, (एक साथ विथड्रॉल के बजाय) अब आपके पास मासिक, तिमाही, छमाही या सालाना आधार पर विथड्रॉल का विकल्प है. (इसके बारे में ज़्यादा जानने के लिए पढ़ें)

निवेश के 'एक्टिव' विकल्प पर विचार करें

NPS में निवेश करते समय, आपको निवेश के दो विकल्पों: 'ऑटो' और 'एक्टिव', में से एक चुनने के लिए कहा जाएगा. हालांकि 'ऑटो' विकल्प सुविधाजनक लग सकता है, क्योंकि यह ऑटोमैटिक तरीक़े से उम्र के आधार पर एसेट एलोकेशन तय करता है. इसके पूर्वनिर्धारित एलोकेशन ख़ासे कंज़रवेटिव हैं और ऐसा इसलिए है क्योंकि इसका एग्रेसिव प्लान भी 35 वर्ष की आयु तक इक्विटी में केवल 75 फ़ीसदी तक निवेश करने की अनुमति देता है, जिसके बाद हर साल इक्विटी एलोकेशन अपने आप कम हो जाता है.

'एक्टिव' विकल्प चुनने से 35 वर्ष की आयु के बाद भी इक्विटी में 75 फ़ीसदी तक आवंटन करने की अनुमति मिलती है. ये एक बड़ा रिटायरमेंट कॉर्पस बनाने में फ़ायदेमंद हो सकता है.

हमारे NPS परफ़ॉर्मेंस टूल पर ग़ौर करें

ये भी पढ़िए- NPS अब बेहतर हुआ!

क्या आपके मन में कोई और सवाल है? हमसे पूछिए

धनक साप्ताहिक

बचत और निवेश करने वालों के लिए फ़्री न्यूज़लेटर


दूसरी कैटेगरी