स्टॉक वायर audio-icon

स्टॉक रिसर्च के लिए हमारा स्टॉक स्क्रीनर परफ़ेक्ट है

अपनी ज़रूरत और पसंद के मुताबिक़ स्टॉक सलेक्ट करने का एक पावरफ़ुल टूल

स्टॉक रिसर्च के लिए हमारा स्टॉक स्क्रीनर परफ़ेक्ट है

ये स्टोरी सुनिए

back back back
2:32

जैसे-जैसे महंगाई और ब्याज दरें बढ़ रही हैं, स्टॉक मार्केट लोगों की इन्वेस्टमेंट लिस्ट में ज़्यादा दिखाई देने लगा है. मगर 4,000 स्टॉक के बीच, सही स्टॉक का चुनाव किसी के लिए भी मुश्किल काम है. हमारा स्टॉक स्क्रीनर टूल, हज़ारों स्टॉक के इस शोर-शराबे को कम करने में आपकी मदद करेगा.

स्टॉक तलाशने की रिसर्च शुरू करें

स्टॉक रिसर्च के लिए सही जानकारी ज़रूरी है. तो, इसके लिए हमने ऐसे शुरुआती फ़िल्टर तैयार किए हैं, जो आपके स्टॉक चुनाव की सही वजह आपको देंगे. अलग-अलग फ़िल्टर से अलग तरह के स्टॉक चुने जा सकते हैं और इसमें फ़िल्टर्र अप्लाई करने के बाद जो फ़ाइनल लिस्ट आपको मिलेगी, उसमें काफ़ी सारी अच्छी कंपनियां होंगी, जिनसे आप अपनी रिसर्च ज़ोर-शोर से शुरू कर सकते हैं.

आपको ये भी याद रखना चाहिए कि अलग-अलग स्टॉक अलग तरह की ज़रूरतों के लिए सही होते हैं. हालांकि हमारा स्टॉक स्क्रीनर विजेचा के चुनाव की गारंटी तो नहीं देता, मगर ये एक पावरफ़ुल टूल है. और ये एक ऐसा टूल है जिसे आप अपने शुरुआती मानदंड (criteria) के मुताबिक़ कस्टमाइज़ कर सकते हैं. इसके बाद, आप अपनी समझ बूझ से अपने फ़ैसले ले सकते हैं.

यहां से आप हमारे स्टॉक स्क्रीनर पर जा सकते हैं और अपनी पसंद के फ़िल्टर अप्लाई कर सकते हैं.

ये भी पढ़िए- कौन सा म्यूचुअल फ़ंड कितनी फ़ीस लेता है?

फ़िल्टर के सैंपल

हमने पिछले पांच साल के दौरान क्वालिटी कंपनियों की लिस्ट बनाने के लिए इन फ़िल्टर्स को अप्लाई किया.

  • साइज़ - हमने ऐसी कंपनियां चुनीं जिनका मार्केट कैप ₹1,000 करोड़ से ज़्यादा है.
  • ग्रोथ - सिर्फ़ ऐसी ही कंपनियां चुनी गई हैं जिनकी पांच-साल की रेवेन्यू ग्रोथ सालाना 10 प्रतिशत से ज़्यादा है.
  • मार्जिन - इसके अलावा हमनें ऐसी कंपनियां शॉर्टलिस्ट की, जिनका पांच-साल का औसत ROCE 20 प्रतिशत से ज़्यादा रहा.
  • अन्य - हमने ऐसी ही कंपनियों चुना, जिनकी कम से कम 10-साल की फ़ाइनेंशियल हिस्ट्री हो.

इस लिंक के ज़रिए आप स्क्रीनर पर जा सकते हैं.

कुछ सावधानी ज़रूरी है

याद रखें, ये शुरुआती क़दम है. हमारी स्क्रीन पर दिखने वाले ये स्टॉक हमारी रेकमेंडेशन नहीं हैं; निवेश से पहले आपको ख़ुद अपनी समझ से फ़ैसले लेने होंगे.

ये भी पढ़िए- आपको डायरेक्ट प्लान क्यों चुनना चाहिए?

धनक साप्ताहिक

बचत और निवेश करने वालों के लिए फ़्री न्यूज़लेटर


दूसरी कैटेगरी