वर्ड्स वर्थ audio-icon

पैट डोर्सी की सफलता के राज़

Pat Dorsey की क़िताब "The Five Rules for successful Stock Investing" की इन्वेस्टमेंट फ़िलॉसफ़ी समझना आपके लिए फ़ायदे की बात होगी.

पैट डोर्सी की सफलता के राज़

ये स्टोरी सुनिए

back back back
3:59

Pat Dorsey Investment: शेयर मार्केट में क़ामयाब होने के लिए, फिज़ूल बातों से बचते हुए संकेतों पर ध्यान देना चाहिए. बेहतर बिज़नस यानी कंपनी को चुनना अहम है, लेकिन सवाल उठता है कि आप उन्हें कैसे पहचानेंगे?

डोर्सी एसेट मैनेजमेंट (Dorsey Asset Management) के फाउंडर पैट डोर्सी ने "द फाइव रूल्स फॉर सक्सेसफुल स्टॉक इन्वेस्टिंग" नाम की एक क़िताब लिखी है. इसमें इस बात पर ज़ोर दिया गया है कि कैसे आप एक दमदार स्टॉक चुनने के लिए सही दिशा में आगे बढ़ सकते हैं.

डोरसी को मॉर्निंगस्टार के लिए इकनॉमिक मोट रेटिंग और कंपेटेटिव एडवांटेज एनलाइज़ करने के लिए, इसके काम के तरीक़े का विकास करने के लिए जाना जाता है. इनकी क़िताब में कई अहम जानकारियां हैं. जिनमें से कुछ के बारे में यहां बताया जा रहा है.

सफल स्टॉक निवेश के 5 नियम
डोर्सी का मानना है कि एक निवेश फ़िलॉसफ़ी और दुनिया के बारे में सोचने का एक तरीक़ा होना चाहिए. इसके बिना मार्केट में आपका सफ़र चुनौतीपूर्ण हो जाता है. इस तरह, वो 5 नियम रेकमेंड करते हैं जो आपके लिए एक रोडमैप की तरह काम कर सकते हैं.

ये भी पढ़िए- स्टॉक इन्वेस्टिंग का सबसे बड़ा रिस्क!

  • अपना होमवर्क करें
    निवेशकों की सबसे आम ग़लती है कि वो अपने ख़रीदे हुए स्टॉक की पूरी तरह से जांच पड़ताल नहीं करते. जब तक आप बिज़नस के बारे में सब कुछ नहीं जान लें, तब तक स्टॉक नहीं ख़रीदने चाहिए.
  • इकोनॉमिक मोट का पता लगाएं
    इकोनॉमिक मोट कुछेक कंपनियों को कई साल तक प्रोफ़िटेबिलिटी के एवरेज लेवल से ऊपर बने रहने देती है और ये कंपनियां अक्सर सबसे बेहतर लॉन्ग टर्म निवेश होती हैं.
  • सुरक्षा के लिए मार्जिन रखें
    बेहतरीन कंपनियों को खोजना निवेश प्रोसेस का केवल आधा हिस्सा है; बाक़ी आधे हिस्से में कंपनी की क़ीमत का अंदाज़ा लगाना होता है. आप ऐसे ही आगे नहीं बढ़ सकते और करेंट प्राइस पर स्टॉक नहीं ख़रीद सकते. दरअसल, हो सकता है कि मार्केट बहुत ऊंची क़ीमत डिमांड कर रहा हो. और अगर आपके द्वारा चुकाई जा रही क़ीमत बहुत ज़्यादा है, तो आपका निवेश आपको निराश कर सकता है. किसी भी निवेशक का गोल स्टॉक को उसकी असल क़ीमत से कम में खरीदना चाहिए.

ये भी पढ़िए- ज़्यादा स्टॉक ख़रीदने वाले म्यूचुअल फ़ंड, अच्छे होते हैं या ख़राब?

  • लंबे समय के लिए होल्ड करें
    निवेश में एक लंबे समय के लिए कमिटमेंट होना चाहिए, क्योंकि शॉर्ट टर्म ट्रेडिंग का मतलब है कि आप हारने के लिए खेल रहे हैं. असल में इससे कॉस्ट बढ़ जाती है, जिसमें टैक्स और ब्रोकरेज कॉस्ट दोनों शामिल हैं. ये अच्छे प्रदर्शन के लिए एक बड़ी रुकावट है.
  • जानिए कब बेचना है
    किसी स्टॉक को कब बेचना सही है, ये जानना उतना ही ज़रूरी है जितना ये जानना कि स्टॉक कब ख़रीदना है. फिर भी हम अक्सर अपने अच्छे परफ़ॉर्मर को बहुत जल्दी बेच देते हैं और अपने ख़राब परफ़ॉर्मर को लंबे समय तक होल्ड रखते हैं. सबसे ज़रूरी बात, अपने स्टॉक के बजाय अपनी कंपनियों पर लगातार नज़र रखना है. दिन में 20 बार स्टॉक की क़ीमत देखने के बजाय अपनी कंपनियों और जिस इंडस्ट्री में वो काम करती हैं, उनके आसपास की ख़बरों पर ध्यान देना कहीं बेहतर है.

पैट डोर्सी की निवेश फ़िलॉसफ़ी के पीछे इस तरह के सरल लेकिन गहरी समझ वाली बातें हैं. और बाक़ी आप उनकी क़िताब में पढ़ सकते हैं.

ये भी पढ़ें: बिल ऑकमैन बता रहे हैं पैसा बनाने का तरीक़ा

धनक साप्ताहिक

बचत और निवेश करने वालों के लिए फ़्री न्यूज़लेटर


दूसरी कैटेगरी