धनक से पूछें

सुपर टॉप-अप हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी को पोर्ट कर सकते हैं?

हम इस प्लान के बारे में विस्तार से समझते हैं

सुपर टॉप-अप हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी को पोर्ट कर सकते हैं?AI-generated image

मेरे पास एक सुपर टॉप-अप प्लान है. क्या मैं इसे किसी दूसरे प्रोवाइडर के पास पोर्ट यानी (ट्रांसफ़र) कर सकता हूं? - श्याम मेनन

सुपर टॉप-अप प्लान को किसी दूसरी इंश्योरेंस कंपनी में शिफ़्ट किया जा सकता है. इंडस्ट्री के जानकारों का मानना है कि ये काफ़ी दुर्लभ है और आमतौर पर ऐसा तब होता है जब कोई क्लेम में गंभीर समस्याओं का सामना कर रहा हो.

कैसे पोर्ट किया जा सकता है?

मेडिकल प्लान को ट्रांसफ़र करने का सीधा तरीक़ा है: मौजूदा पॉलिसी की प्रीमियम रिन्यूअल डेट से कम से कम 45 दिन पहले अपने नए इंश्योरेंस प्रोवाइडर से संपर्क करें. फिर, पोर्टेबिलिटी और प्रपोज़ल फ़ॉर्म को भरें, अब आप स्विच करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं.

विस्तार में जानकारी के लिए इसे पढ़िए - Health Insurance पॉलिसी कैसे पोर्ट करें?

सुपर-टॉप-अप प्लान क्या हैं

एक सुपर टॉप-अप प्लान पॉलिसी-होल्डर को उसकी बेसिक हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी की कवरेज सीमा से ज़्यादा खर्च करता है. ये डिडक्शन अमाउंट के साथ आती हैं जो कि सही तरीक़े से आपके बेसिक प्लान में शामिल होनी चाहिए.

उदाहरण के तौर पर, मान लीजिए कि आपके पास ₹5 लाख तक की बेसिक मेडिकल पॉलिसी है. इसके अलावा, आप ₹20 लाख का कवरेज और ₹5 लाख तक कटौती लायक़ सुपर टॉप-अप प्लान ख़रीदते हैं. अब, मान लीजिए कि अस्पताल में भर्ती होने की लागत क़रीब ₹7 लाख है (जो कि डिडक्शन अमाउंट ₹5 लाख से ज़्यादा है). इस स्थिति में, आपको शुरुआत में ₹5 लाख का खर्च या तो अपनी प्राइमरी इंश्योरेंस पॉलिसी के ज़रिए या अपनी जेब से कवर करना होगा. और उसके बाद ही सुपर टॉप-अप प्लान, बचे ₹2 लाख को कवर करने के लिए क़दम बढ़ा सकती है.

ये भी पढ़िए - कैसे फ़ाईल करें लाइफ़ इन्‍श्‍योरेंस क्‍लेम

क्या आपके मन में कोई और सवाल है? हमसे पूछिए


दूसरी कैटेगरी